Computer Output और Input Device क्या है ? Input & Output Device In Hindi

0
computer output and input device kya hai in hindi

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर से मिलकर बना होता है जिस तरह कंप्यूटर को चलाने के लिए सॉफ्टवेयर की महत्वपूर्ण भूमिका होती है उसी तरह कंप्यूटर हार्डवेयर भी महत्वपूर्ण होते है जिसमे Output और Input Device शामिल है, इनपुट डिवाइस के द्वारा कंप्यूटर में डाटा और निर्देश दिया जाता है, यानी कि इनसे किसी भी प्रकार का डाटा इनपुट कर सकते है, प्रत्येक Computer में Keyboard और Mouse होता है जो कि Input Device है, और जिनसे ही कंप्यूटर पर ऑपरेट किया है, इनके बिना Pc को ऑपरेट नही किया जा सकता, इसी तरह फोल्डर या फ़ाइल बनाने, सॉफ्टवेयर को इनस्टॉल करने, प्रोग्रामिंग करने और कंप्यूटर को किसी भी प्रकार का निर्देश देने आदि काम इनपुट डिवाइस के द्वारा किया जाता है,

Output Device कंप्यूटर के input Device द्वारा दिये गए निर्देशो की प्रोसेसिंग करने के बाद परिणाम Hard Copy और Soft Copy में दिखाता है, Hard Copy एक Printed Document होती है जबकि Soft Copy एक Non Printed Document होती है, यानी कि आप Computer में MS Word में Power Point या Excel कोई भी File बनाते है और उस फ़ाइल को Hard Disk Storage में सेव करते है तो वो सॉफ्ट कॉपी होती है, और जब आप किसी फ़ाइल का Print निकाल लेते है तो वो Hard Copy होती है, प्रिंटर के द्वारा आप किसी भी फ़ाइल document, Pdf, Photo आदि का Print निकाल सकते है।

Computer Output और Input Device क्या है और कितने प्रकार के होते है

किसी भी कंप्यूटर के साथ में आपने Monitor, Keyboard, Mouse, Printer, speaker आदि देखे होंगे, यह Output और Input Device होते है, जैसा कि मैंने बताया की Pc में Hardware की महत्वपूर्ण भूमिका होती है, और यह इनपुट और आउटपुट डिवाइस कंप्यूटर हार्डवेयर होते है जिनके द्वारा डाटा को इनपुट करके उसका परिणाम प्राप्त कर सकते है, कंप्यूटर मनुष्य के निर्देशो पर पर कार्य करता है, यानी कि इसको निर्देश देकर किसी को कार्य को करा सकते है, चूंकि Computer एक मशीन है इसलिए इसे निर्देश भी मशीनी भाषा मे दिया जा सकता है, Computer में Command Prompt के द्वारा आप इसे कोई निर्देश दे सकते है, इससे आप किसी भी फ़ाइल को ओपन करना, प्रोग्राम की जानकारी पता करना आदि कई तरह के काम को कर सकते है, और यह ऑप्शन सभी Windows में मिल जाता है।

computer output and input device in hindi

Input Device List In Hindi

1. Keyboard

कीबोर्ड टाइपराइटर की तरह ही होता है जिस प्रकार टाइपराइटर से किसी भी टेक्स्ट को टाइप किया जा सकता है उसी प्रकार कीबोर्ड से भी किसी भी प्रकार का टेक्स्ट टाइप किया जा सकता है, लेकिन Typewriter में लगे बटन की तुलना में कीबोर्ड की बटन आसानी से दबते है, Keyboard Input device कंप्यूटर से एक केवल के द्वारा जुड़ा होता है जिसका एक एक सिरा कीबोर्ड में लगा होता है और दूसरा सिरा CPU के पीछे USB Port में लगा रहता है, टाइपराइटर की तुलना में कीबोर्ड से टाइप करना आसान होता है, और इसमे टाइपराइटर से अधिक कुंजिया होती है, इसमे अंक कुंजिया, वर्ण कुंजिया, फंक्शन कुंजिया, संपादन और एडिटिंग कुंजिया, नियंत्रण या कंट्रोल कुंजिया तथा चिन्ह कुंजिया आदि होती है, प्रत्येक कुंजी का कार्य अलग अलग होता है, कीबोर्ड कुंजियों की द्वारा स्क्रीन पर दिखने वाले कर्सर भी Left, right, Up और Down में किया जा सकता है,

कंप्यूटर के input device Keyboard में दी जाने वाली महत्वपूर्ण कुंजिया Backspace, Space Bar, Enter , Esc, Caps lock, आदि है, Backspace के द्वारा किसी भी अक्षर को मिटाया जा सकता है, यह एक एक अक्षर मिटाते हुए कर्सर को बायीं तरफ से जाती है, spacebar कीबोर्ड का सबसे बड़ा बटन होता है जिसका उपयोग अक्षर के बीच मे जगह छोड़ने के लिए किया जाता है, इसके द्वारा आप किसी भी अक्षर या शब्द के बीच मे कितनी भी जगह छोड़ सकते है और उसके बाद दूसरा शब्द लिख सकते है, Enter कुंजी कंप्यूटर के द्वारा निर्देशो का निष्पादन कार्य करती है, Esc का उपयोग कंप्यूटर में किसी भी प्रकार की प्रोसेसिंग को रोकने के लिए किया जाता है, Caps lock के द्वारा आप कीबोर्ड से कैपिटल लेटर में टाइप कर सकते है, इसके लिए आपको Shift कुंजी को नही दबाना होता है।

2. Mouse

Mouse भी एक Input Device है , जो CPU के द्वारा कंप्यूटर से जुड़ा होता है, Mouse के द्वारा Computer screen पर दिखने वाले कर्सर को Left, Right, Up, Down आदि में किया जा सकता है, यानी कि Computer की स्क्रीन पर तीर का निशान दिखता है, माउस के द्वारा उस तीर के निशान को स्क्रीन पर भी ले जाया जा सकता है, और कार्य को सम्पन्न करने के लिए माउस के बटन को दबाते है, उदहारण के लिए अगर आपको किसी प्रोग्राम को ओपन करना है, तो माउस के द्वारा कर्सर को उस प्रोग्राम या एप्लीकेशन पर लाकर माउस से Left Click करके उस एप्लीकेशन को ओपन कर सकते है।

3. MICR ( Magnetic Ink Character Recognition )

इस input device में मानव तथा मशीन द्वारा समझी जा सकने वाली प्रणाली से इनपुट किये जाने वाले डाटा को एक Normal Paper ( सामान्य कागज ) पर लिखा जाता है, इसमे अक्षरों को लिखने के लिए विशेष फॉन्ट का यूज़ होता है, और अक्षरों को लिखने के लिए विशेष स्याही का यूज़ होता है, इसका उपयोग अधिकतर बैंकों में प्रयोग किया जाता है।

4. OCR ( Optical Character Reader )

OCR input device एक Character Reader या Scanner होता है जिसके द्वारा मनुष्य द्वारा लिखे टेक्स्ट को पढा जा सकता है, यानी कि यह मशीन हाथ से लिखे टेक्स्ट को भी स्कैन और रीड कर सकती है, इसमे डाटा पढ़ने का कार्य लाइट स्कैनिंग विधि के द्वारा किया जाता है।

5. OMR ( Optical Mark Recognition )

इस डिवाइस में विशेष स्याही या विशेष फॉन्ट का उपयोग नही किया जाता है, OMR एक Input Device है, जो कि विशेष प्रकार के Symbols को पहचान सकता है, यह कई तरह के चिन्ह की भी पहचान कर सकते है, यानी कि 1 सवाल के लिये कुछ विकल्प है और उनमेसे सही विकल्प पर किसी ने चिन्ह लगाया है, तो OMR द्वारा उस चिन्ह या सिंबल को पहचान कर कंप्यूटर को इसके बारे में बताता है इसमे भी डाटा को रीड करने के लिए Light Scanning विधि का यूज़ होता है।

6. Scanner

Scanner का यूज़ किसी भी Text Document या Image File को Scan करने के लिए किया जाता है, Scanner जो की Computer का Input Device है इसमें सूचना को स्कैन और डिजिटाइज करने के लिए लेजर तकनीक का उपयोग किया जाता है, Scanner द्वारा स्कैन की गई फ़ाइल को संपादित भी किया जा सकता है, और उसमे बदलाव भी किया जा सकता है, इससे Photo, Text Document को High Resolution में स्कैन किया जा सकता है।

7. Barcode Reader

Barcode reader भी कंप्यूटर का Input device है जिसका यूज़ करके barcode को Read करने के लिए किया जाता है, बहुत से सुपर मार्केट या मॉल में आपने देखा होगा कि जब भी आप किसी प्रोडक्ट का भुगतान करने के काउंटर पर जाते है, तो वहां पर कंप्यूटर ऑपरेटर प्रत्येक प्रोडक्ट पर लगे बारकोड को एक मशीन से स्कैन करता है जिससे कि उस प्रोडक्ट की प्राइस कंप्यूटर पर दिखने लगती है, इसी मशीन को Barcode Reader कहते है।

8. Touch Screen

टच स्क्रीन एक ऐसा Computer Monitor होता है जिससे कि स्क्रीन को टच करके कंप्यूटर को इनपुट प्रदान किया जा सकता है यानी कि जिस तरह से टच स्क्रीन मोबाइल होते है जिनको स्क्रीन पर टच करके चलाया जा सकता है उसी प्रकार Touch Screen Monitor से ही Computer को भी ऑपरेट किया जा सकता है।

9. Joystick

Computer में गेम खेलने के लिये Joystick Input Device का उपयोग किया जाता है, यह एक Gaming Remote होता है, जिंसमे कई सारे बटन होते है जिसको कंप्यूटर से कनेक्ट कर सकते है, वैसे तो Games को Computer Keyboard और Mouse के द्वारा भी खेल सकते है, लेकिन Joystick का यूज़ करने से किसी भी गेम को खेलना बहुत आसान होता है।

10. Light Pen

Mouse , Joystick आदि की तरह Light Pen भी भी Computer का Input Device है जिसका उपयोग कंप्यूटर स्क्रीन पर उपस्थित विभिन्न सूचनाओं को चुनने और स्क्रीन पर चित्र बनाने के लिए किया जाता है।

Computer Output Device List In Hindi

1. Monitor

कंप्यूटर मॉनिटर एक टेलीविजन जैसा दिखने वाला डिवाइस होता है, जो की CPU से आने वाली सूचनाओ को स्क्रीन पर दिखाता है, इसे और भी कई नाम से जानते है जैसे कि Screen, Visual Display Unit और CRT आदि, मॉनिटर कंप्यूटर का महत्वपूर्ण हार्डवेयर होता है, क्योकि आप मॉनिटर की स्क्रीन पर ही सभी सूचनाएं दिखती है, मॉनिटर की स्क्रीन पर सूचना चाहे वो संख्यात्मक, वर्णात्मक या चित्र के रूप में आदि सभी सूचनाएं दिखती है।

2. Printer

Printer एक Output Device है जिसका उपयोग किसी भी File, Document, Images आदि को Print करने के लिए किया जाता है, इससे किसी भी फ़ाइल की हार्ड कॉपी बना सकते है, प्रिंटर एक साधारण कागज पर विशेष रूप से तैयार किये गए कागज पर Output देता है,

3. Plotter

Graph Plotter एक ऐसा Output Device है जिससे किसी भी प्रकार के ग्राफ, डिज़ाइन, छायाचित्र आदि को प्रिंट करने में प्रयुक्त किया जाता है, इसके लिए वैसे सामान्य प्रिंटर का उपयोग भी किया जा सकता है लेकिन Plotter से सभी चित्र उच्च कोटि की शुद्धता प्राप्त करते है।

निष्कर्ष –

Computer Output और Input Device क्या है, और कितने प्रकार के होते है, कंप्यूटर का यूज़ अभी व्यावसायिक कार्यालय, शिक्षा आदि लगभग सभी क्षेत्रो में किया जाने लगा है, और Resume, Presentation आदि तैयार करने जैसे काम कंप्यूटर के द्वारा ही कर सकते है।

दोस्तो computer Output & Input Device in Hindi इसके बारे में सीख ही गए होंगे, यह जानकारी अगर आपको अच्छी लगी और फायदेमंद रही तो इसे अपने दूसरे दोस्तो के साथ मे सोशल मीडिया पर भी साझा करें और ऐसी नई जानकारी के लिए हमारी साइट पर विजिट करते रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here